गंगा माता जी की आरती, Ganga Mata Ji Ki Aarati Hindi Lyrics

Rate this post

Ganga Mata Ji Ki Aarati Hindi Lyrics

आरती गंगा माता जी की -आरतीो
गायक अनुराधा पौडवाल
गीतकार पारंपरिक
संगीत टी-सीरीज़

 

Ganga Mata Ji Ki Aarati Hindi Lyrics
 
ओम जय गंगे माता, श्री जय गंगे माता
जो नर तुमको ध्यान, मन वंचित फल पात
ओम जय गंगे माता …

चंद्रा सी ज्योत तुम्हारी, जल निर्मल अता
शरण पडे जो तेरी, सो नर तर जाटा
ओम जय गंगे माता …..

पुत्रा सागर के तारे, सब जग को ग्याता
कृपा द्रष्टि तुमहारी, त्रिभुवन सुख दाता
ओम जय गंगे माता …..

एक बर जो परानी, शरण तेरी आटा
यम की तस मितकार, परमगति पात
ओम जय गंगे माता …..

आरती मात तुमहारी, जो जन नित्य गाता
सेवक वाही सहज मैं, मुक्ति को पट
ओम जय गंगे माता …..

🙏🙏🙏

 

Leave a Comment