इख्मा छुई उखमा छुई, Ikh Ma Chui Ukh Ma Chui Hindi Lyrics

Rate this post

Ikh Ma Chui Ukh Ma Chui Hindi Lyrics

एल्बम छुयाल-2006
गीत  इख्मा छुई उखमा छुई
भाषा गडवाली
गायक नरेंद्र सिंह नेगी,मीना राणा
गीतकार नरेंद्र सिंह नेगी
संगीतकार नरेंद्र सिंह नेगी

 

Ikh Ma Chui Ukh Ma Chui Hindi Lyrics

 इख्मा छुई उखमा छुई
जखमा देखा तखमा छुई
इख्मा छुई उखमा छुई
जखमा देखा तखमा छुई
इख्मा उखमा जखमा तखमा
पूछा न अब क्या बोन की काखमा

इख्मा छुई उखमा छुई
जखमा देखा तखमा छुई
सुध बुध नि रैंदी दिन रात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की

तैलया खोला कुत्णु जान्द, तैलया खोला
तैलया खोला कुत्णु जान्द
उर्खेल्यु माँ छविन लगान्द
मेरी गन्जेलीईई रुक्दी नीई
मेल्या खोला पिस्नु जान्द, मेल्या खोला
मेल्या खोला पिस्नु जान्द
रात बासा रेकी आन्द
मेरी जन्द्री थक्दी नी
द्वि अंगुल की गिची, गिची
आर जीव्ह डेड हाथ की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की

भुजी बनांद छुई लगान्द, भुजी बनांद
भुजी बनांद छुई लगान्द, भुजी
चुलाई माँ फुके जान्द

चुला जुग्ताआ गोदड़ी भेन्डी
रोटी पकांद छुई लगान्द, रोटी पकांद
रोटी पकांद छविन लगान्द, रोटी
तवे माँ बिसरी जान्द

मेरी सगोर्याआ अब खा बिन्दीई
को भाज्ञान खालो, खालो
अजी खालो तेरा हाथ की

कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की

 

बडू मा कचिड़ी लगंद, बडू मा
बडू मा कचिड़ी लगंद
पंडेरों मा पंचेत बैठानद
हे मेरी छुँयुं बुकी रैगयु
बिज्या मात त नी खाण्ड, बिज्या मात
बिज्या मात त नी खाण्ड
निंद मा भी बच्याणी रांद
बरसु बटी उडीन्दू छौउ
सयेनी खानि हरचि, हरचि
अजी हरचि दिन रात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि, बात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि, बात की

छुन्यु बटी छ्वीं नि काल्द, छुन्यु बटी
छुन्यु बटी छ्वीं नि काल्द,
गीची जन मशीन चल्द अरे मेरी गीची
क्या करु क्या करुउउ.
दाद पीड़ा झीसे लैंड, दाद पीड़ा
दाद पीड़ा झीसे लैंड
पर घड़ेक चुप नी रैंद
हे मेरी ब्वे मुंदारु मुंदारु
क्या चीज रचिचा रचिचा रचिचा वे बिधाता की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की

इख्मा उखमा जखमा तखमा
पूछा न अब क्या बोन की काखमा
इख्मा छुई उखमा छुई
जखमा देखा तखमा छुई
सुध बुध नि रैंदी दिन रात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की
कन छुयाल व्हे तू बाकि बात की

Thankyou….

Leave a Comment