कैन भरमाई, Kain Bharmai Hindi Lyrics

Rate this post

Kain Bharmai Hindi Lyrics

गीत कैन भरमाई
भाषा गडवाली
गायक केशर पंवार और अनिशा रांगड़
गीतकार ??????
संगीतकार राजेश गंधर्व जी

 

Kain Bharmai Hindi Lyrics

कोदू झंगोरू साटी
कोदू झंगोरू साटी, उलख्यारा कुटोण्या नि
कोदू झंगोरू साटी, उलख्यारा कुटोण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि

ग्यों कोदू-झंगोरू
ग्यों कोदू-झंगोरू, मैं कतैई खान्दु नि
ग्यों कोदू-झंगोरू, मैं कतैई खान्दु नि
तै बुड्या का लंबा जोंगा, तै बुड्या कु मैं जान्दु नि
तै बुड्या का लंबा जोंगा, तै बुड्या कु मैं जान्दु नि

आली-जाली छुयो न या कैन भरमाई मैं
नकली लगे जोंगा-दाढ़ी त्वै देखण आयूं मैं
आली-जाली छुयो न या कैन भरमाई मैं
नकली लगे जोंगा-दाढ़ी त्वै देखण आयूं मैं

सुखी त्वै रखलु
सुखी त्वै रखलु दिल कभी दुखोण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि

छुटण मा ऐ पैंसठ त्वै पैसे लगि छासठ
छुटण मा ऐ पैंसठ त्वै पैसे लगि छासठ
नि करदु ब्यों तु जा बुड्या फटाफट
नि करदु ब्यों तु जा बुड्या फटाफट

तेरी हंसी-मज़ाक
तेरी हंसी-मजाक और अब सयेन्दु नि
तै बुड्या का लंबा जोंगा तै बुड्या कु मैं जान्दु नि
तै बुड्या का लंबा जोंगा तै बुड्या कु मैं जान्दु नि

दिल ना तोड़ी ना न बोलि शहरों मा रखलु त्वै
पंद्रह-पच्चीस कू छौ तेरी मति केन ख्वे
दिल ना तोड़ी ना न बोलि शहरों मा रखलु त्वै
पंद्रह-पच्चीस कू छौ तेरी मति केन ख्वे

ठकर्वाण बणि रैलि
ठकर्वाण बणि रैलि, दिल कभी दुखोण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि

कैन बोलि कैन बींगि कैन सैन्दा लाई हां
कैन बोलि कैन बींगि कैन सैन्दा लाई हां
तेरी पसंद जू बि होलि मेरी पसंद ना हि ना
तेरी पसंद जू बि होलि मेरी पसंद ना हि ना

झूठा सौं करार
झूठा सौं करार मैं कतैई खान्दु नि
तै बुड्या का लंबा जोंगा तै बुड्या कु मैं जान्दु नि
तै बुड्या का लंबा जोंगा तै बुड्या कु मैं जान्दु नि

तेरी खातिर मेरी सौंजड्या कुछ भी करदयों हां
पितर पुजुण पड्यां हे लठ्यालि हो न ना
तेरी खातिर मेरी सौंजड्या कुछ भी करदयों हां
पितर पुजुण पड्यां हे लठ्यालि हो न ना

दिल मा बसीगि
दिल मा बसीगि, त्वैसी मुख मुडण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि
यौ जोगौ मैं Fund, कटौलु त्वै बांद मैं छोडण्या नि

सीधू-साधू लगणू छ कैन भरमाई तु
सीधू-साधू लगणू छ कैन भरमाई तु
सात-पांचों की छियों मा बोल केनि आई तु
सात-पांचों की छियों मा बोल केनि आई तु

मेरी जिंदगी वैगे
मेरी जिंदगी वैगे हे सौंजण्या तेरा नौ
चट ल्यौदो बारात मैं लिजा अपणा गौं
चट ल्यौदो बारात मैं लिजा अपणा गौं

Thankyou….

Leave a Comment