लस्का ढसका मा चली, Laska Dhaska Ma Chali Lyrics Hindi

Rate this post

Laska Dhaska Ma Chali Lyrics Hindi

एल्बम चक्राचल 1998
गीत लस्का ढसका मा चली
भाषा गडवाली
गायक नरेंद्र सिंह नेगी और अनुराधा निराला
गीतकार नरेंद्र सिंह नेगी
संगीतकार नरेंद्र सिंह नेगी

 

Laska Dhaska Ma Chali Lyrics Hindi
i

लस्का ढसका मा चली तेरी फौन्दी धौंपेली
लस्का ढसका मा चली तेरी फौन्दी धौंपेली
कभी यी पाली लस्स कभी वीं पली लस्स
कभी ये छोड़ लस्स कभी वे छोड़ लस्स

लस्का ढसका मा चली मेरी फौन्दी धौंपेली
लस्का ढसका मा चली मेरी फौन्दी धौंपेली
कभी यी पाली लस्स कभी वीं पली लस्स
कभी ये छोड़ लस्स कभी वे छोड़ लस्स
लस्का ढसका मा चली तेरी फौन्दी धौंपेली हाँ चली

तेरी छाली आंखियुंन छले धरम इमान
तेरी जाली मायान बणे दुनिया बेमान
तेरी छाली आंखियुंन छले धरम इमान
तेरी जाली मायान बणे दुनिया बेमान
मेरी बाली जवानी का चिफ्ला बाठों हिटी
मेरी बाली जवानी का चिफ्ला बाठों हिटी

कभी हे कभी हे कभी क्वी रौडी घस्स कभी क्वी रौडी घस्स
कभी ये छोड़ लस्स कभी वे छोड़ लस्स
लस्का ढसका मा चली तेरी फौन्दी धौंपेली
हाँ चली,हाँ चली

बिरडी गेनी भला भला लोग ठुमकों मा मेरा
अल्झी गेनी कन कना जोगी झुमकों मा मेरा
बिरडी गेनी भला भला लोग ठुमकों मा मेरा
अल्झी गेनी कन कना जोगी झुमकों मा मेरा
तेरा ठुमकों देखि तेरा घुंगरू सुणी
तेरा ठुमकों देखि तेरा घुंगरू सुणी

कभी हे कभी हो कभी हिया मा टुर्र कभी जिकुड़ी मा झस्स
कभी यी पाली लस्स कभी वीं पली लस्स
लस्का ढसका मा चली मेरी फौन्दी धौंपेली
हाँ चली,हाँ चली

पौणा चली जला भोल लेकी डोला बारात
अद्बटा मा न छोड़ बिन्गै जा पूरी बात
पौणा चली जला भोल लेकी डोला बारात
अद्बटा मा न छोड़ बिन्गै जा पूरी बात
मैम राली समुण तेरी मुल मुल हैन्सी
मैम राली समुण तेरी मुल मुल हैन्सी

कभी हे कभी हे कभी मुख फेरी ठस कभी मै देखि ठस
कभी ये छोड़ लस्स कभी वे छोड़ लस्स
लस्का ढसका मा चली मेरी फौन्दी धौंपेली
लस्का ढसका मा चली मेरी फौन्दी धौंपेली
कभी यी पाली लस्स कभी वीं पली लस्स
कभी ये छोड़ लस्स कभी वे छोड़ लस्स
कभी यी पाली लस्स कभी वीं पली लस्स
कभी ये छोड़ लस्स कभी वे छोड़ लस्स

Thankyou…

Leave a Comment